" /> Nishad Media | Har Pal Aapke Sath - Part 3

बिन्द उपजाति का इतिहास

निषाद समाज (मछुआरा समुदाय ) भारत के मूलनिवासी वर्ण व्यवस्था के उप जातियों में विभाजन के रूप और इतिहास के संक्षिपत रूप का अध्ययन- बिन्द जनजाति के विकास वे मध्य भारत में विंध्य पहाड़ियों से उत्पन्न बताया जाता है, अपनी परंपर के अनुसार निषाद के बेटी अपने पति के घर जा रही थी तो वह एक ...
Read more

क्या आप इन रहस्यों को जानते हैं?

क्या आप इन रहस्यों को जानते हैं??? 1.   हल का अविष्कार निषादों ने किया था। 2.   तीर- धनुष निषादों की देन है। 3.   नाव दुनिया का पहला वाहन निषादों की देन है। 4.   दुनिया का पहला राजा निषाद था।(शिवपुराण के अनुसार) 5.   दुनिया के दो प्रथम महाकाव्य रामायण और महाभारत के ...
Read more

क्या कश्यप कहार मछुआ निषाद जाति रहीं हैं ? – जानने के लिए जरूर पढ़े

क्या कश्यप कहार मछुआ निषाद जाति रहीं हैं ? कई पार्टियों के एजेंट अक्सर ये सवाल उठाते हैं की कहार- कश्यप निषाद जाति से सम्बन्ध केवल कोई चुनावी एकता- स्टंट है। और कश्यप कहार कभी भी मछुआ/निषाद जाति नहीं रहीं जबकि सन 1891 की भारत की व्यवसाय आधार पर जनगणना बताती है की 1891 में मछली पालन व्यवसाय का ...
Read more

समाज के प्रतिभाओं एवं सफल व्यक्तियों से निषाद मीडिया का अनुरोध

हमारे समाज में प्रतिभाओं और सफल व्यक्तित्व की कमी नही है।  लेकिन आज तक समाज के पास कोई ऐसा माध्यम नही था जिससे समाज के प्रतिभाओं और सफल व्यक्तियों का सम्मान हो सके। लेकिन अब इस कमी को निषाद मीडिया पूरा करेगी। निषाद मीडिया का आप बंधुओं से वादा है कि सभी प्रतिभाओं और अपने सघर्ष से ...
Read more

10वीं पास के लिए यहां निकली 1394 वैकेंसी, सैलरी 20 हजार रुपए

      झारखंड स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (JSSC) ने राज्य में 1394 कक्षपाल (वार्डरर) की वैकेंसी अनाउंस की हैं। कैंडिडेट्स झारखंड कक्षपाल कॉम्पिटीटिव एग्जामिनेशन-2015 के लिए 28 जनवरी 2016 तक अप्लाई कर सकते हैं। कक्षपाल (वार्डरर) : 1394 पे स्केल : 5200-20200 रुपए+ ग्रेड पे 1900 रुपए एजुकेशनल क्वालि...
Read more